Friday, 15 March 2019

Photo

HASIN RAAT

               हसीं रात


रात के इस आखरी पहर में कोई ख्वाब सताने लगी,
न जाने क्यों तुम फिर याद आने लगी।
अब तो तेरी याद तड़पाने लगी,
दूर होकर भी तुम पास आने लगी।
चाहत भी ये रज़ा मांगने लगी,
हर दुआ में तुझको बेवजह मांगने लगी।
वीरानी रात भी मुझसे कुछ कहती है,
न जाने दिल किस तरह दर्द ये सहती है।
चिड़ियों की चहचहाट में भी तेरी आवाज सुनाई देती है,
न जाने क्यों ये सुन के दिल रो देती है।
अब तो तन्हाई में भी तेरी घुंघरू की आवाज सुनाई देती है,
अब तो दिन रात बस तेरी ही ख्याल रहती है।

By:-Bittu Soni



Tuesday, 26 February 2019

अब तुम ही हो

                  अब तुम  ही हो



अगर मैं हूँ मुसाफिर तो मेरी मंजिल हो तुम,
मैं हूँ खोया तो मेरी हांसिल हो तुम,
मैं हूँ दवा तो मेरी दुआ हो तुम,
हूँ मैं सजा तो मेरी मज़ा तो तुम,
हूँ मैं साज़ तो मेरी ग़ज़ल हो तुम,
हूँ मैं गीत तो मेरी संगीत हो तुम ,
हूँ मैं चाँद तो मेरी चाँदनी हो तुम, 
हो मेरी सांसो में तुम मेरी ख़्वाबो में तुम,
हूँ मैं खुशबू तो  मेरी हवा तो तुम,
हूँ मैं बिगड़ा तो मेरी बनती बात हो तुम,
रात की आखरी पहर मांगी जो वो दुआ हो तुम ,
अब तो मेरी सुबह और शाम  में हो तुम,
बस अब तो मेरा सारा जहां हो तुम।
By:-Bittu soni

Monday, 17 September 2018

THE INCREADEBLE LOVE STORY

:---- अचानक 1 लड़का दरवाजा खोलते हुए जान बचा के भागता है |
Then show flash back i.e. now its look like ……   लड़की भीगी- भागी सी रहो में चलती (चलता) जा रही थी तभी उसकी (उसका) पार्स + रुमाल गिर जाता है और उसे पता भी नही चलता है|  जिसमे उसकी (उसका) कुछ तस्वीरें, कार्ड्स तथा जरुरी documents  रहता है with address.. जो  लड़के को मिलता है | जब लड़का अपना घर जा के , उस पार्स को खोलतें ही तस्वीर जमीं  पे गिर जाता है| और तस्वीर को देखते ही देखते ही लड़का ख्यालों में खो जाता है | ख्यालों में ही (लड़का लड़की के पास जाता है उसे उसका सामान देता है, और दोनों 1 दुसरे के आँखों में देखने लगता है love story beginning और भी मुलाकातें होती है फिर लड़का लड़की कि आँखों में खो जाता है तभी उसका दोस्त उसे हिलाता है जब वो नही उठता है तब वो उसे लात मरता है और कहता है भाई तू अभी तक जिंदा है मुझे लगा तेरी लाश पारी है इसीलिए मैं अपना ख्वाइस पूरी कर रहा था ) | शाम में लड़का दिए हुए address पर जाता है और वहां उस लड़की को देखते ही मुस्कुराता है तभी लड़की लड़के का हाँथ सहलाता है वो भी हवस कि निगाहों से तो लड़का को भी अच्छा लगता है और वो खुश हो जाता है ख़ुशी क मारे फुलें नहीं समाता है तभी “**लड़की बोलती (बोलता) है जानू तुम बैठो मैं हम दोनों के लिए coffee लाती (लाता) हूँ” तभी लड़का अचानक दरवाजा खुलते ही गिरते परते भागता है |  
Note :-- “ ** means ” वास्तव में वो लड़की नही रहती है वो 1 गे रहता है जब वो बोलती (बोलता ) है तब आवाज सुन कर ही लड़का भागता है | लेकिन लड़का के ख्यालों में हकीकत ही 1 लडकी रहती है |              for any query contact….


email: -- swarnakarbittu1998@gmail.com


writter :-- Bittu soni

mob :-- 08239401810


                            😃😃😃😃😃😃😃

                        at first contact me 

"सिगरेट पिता हूँ मैं"

                        सिगरेट पिता हूँ मैं


तेरे जाने के बाद भी जीता हूँ मैं,

हाँ अब सिगरेट पिता हूँ मैं |

ऐसे तो धुआं मीठी नहीं होती है ,

हाँ लेकिन तेरी कड़वी यादों को उड़ने के लिए पिता हूँ मैं |

हाँ अब सिगरेट पिता हूँ मैं |

अपनी बेचैनी को हवा में उदा देता हूँ ,

और लोग कहते है, सिगरेट बहुत पिता हूँ मैं|

तुझे हर पल याद करता हूँ मैं ,

हाँ अब सिगरेट पिता हूँ मैं |


                          :- बिट्टू सोनी

Wednesday, 22 August 2018

Dastan-a-Dil

                                   
       दास्ताँ-ए-दिल

तेरे इश्क मे दिल टुटा है न जाने तकदीर किस तरह मुझसे रूठा है ,
अजीब सा हाल है इन दिनों तबियत का ख़ुशी ख़ुशी नहीं और दर्द बुरा नही लगता है|
बन गया बंजारा तेरे बाद, न अब होश है किधर जाऊंगा,
बस तेरे याद में जीता हूँ और दर्द-ए-गम को पिता हूँ,
अब जख्मो को अपने सीता हूँ ,न जाने किस तरह सहता हूँ |
बस चाह थी एक हमसफर कि मुझे,
तुम ने दिया धोखा और मैं उसी राह में लड़खड़ा के चलता रहा ,
न मिला साथ तेरी न मिली वफाये तेरी,
बस मिली याद तेरी और इसके सहारे जीता रहा |
अब तो एक पल में हज़ार दफा देखते है तस्वीर तुम्हारी लेकिन तुम्हे खबर होती नही ,
अभी भी है दिल को उम्मीद तुम्हारी पर ए उम्मीद भी खत्म होती नही |


 रचनाकर :- बिट्टू सोनी

Photo